Thursday, July 24, 2014

Poems And Articles By Shashu: तेरी जगह तेरी याद सो गई थी कल रात

Poems And Articles By Shashu: तेरी जगह तेरी याद सो गई थी कल रात: तेरी जगह तेरी याद सो गई थी कल रात पूरी रात आंसुओं से भिंगी रही आंखे मेरी....... ---Infinity