Sunday, April 28, 2013

हे मालिक

मेरे सपने बहुत बड़े और बहुत छोटी थी जरूरते
छोटा था जब मै....
अब सपने बहुत छोटे और जरूरते अनगिनत है मेरे
हे मालिक बच्चा ही क्यों न रहने दिया मुझे हमेशा के लिए