Monday, December 1, 2014

पूरी रात मोटी रज़ाई मे ठंढ लगती रही ....






कल रात गुजरते हुए उस चौक पर
ठिठुरते हुए 2 बच्चो एक माँ को देखा था
पूरी रात मोटी रज़ाई मे
ठंढ लगती रही ....
.........Infinity